जून 30, 2013

बूँदें हैं कि बस आज भी इंतज़ार करती हैं







कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

आवाज़ें..